दगा झन देबे..

दगा झन देबे..
Like This Video 0 18 jayjohar.com
Added by September 13, 2017
जब मैं बनठन के निकलथों, हां रे सजधज के निकलथों

 

 

दगा झन देबे तैं जंवारा, मया पिरित बढ़ा के..

 

 

मया के बान चलाके मोर दिल ल काबू करे..

 

 

जब सुरता तोर आहि मोला अड़बड़ सताही..

 

 

ड्राईबर बाबू गाड़ी धीरे चला…

 

 

मया लागे राजा, तोर बर मोला मया लागे..

 

 

चल टूरी गोबर बिने बर, तोर संग महू ह जाहूं वो

 

 

तोर पिरित के धुन म रे संगवारी, मन मोर नाचे

 

Similar Videos

तैं झुपत आबे दाई.. (दुकालू यादव)

0 18 0

संझा बिहनिया हो, मैं आतरी उतारों मैंया.. खाटी खाटी गांजा ल पीए मोर औघड़ दानी   छोटे छोटे तोर लईका वो दाई, कईसे करन तोर बिदाई     ऐ देवी, ऐ दाई, ऐ मैया     तैं झुपत आबे वो,

बिदाई..

0 40 3

जीवन जीए के नाम, मौज करव..   मैं घिर आयो घनघोर भंवर म….   मन ले मिलगे, मन ह तोर मोर…   गोबर दे बछरू गोबर दे…. टूरा कमाल के काम बेमिसाल के….   एक ठन रूमाल दे दे, प्यार के

रघुबीर…

0 49 5

मैं ह आवों टूरा राईगढ़िया, असली छत्तीसगढ़िया..     माटी ल छोड़ झन जाना, जल्दी ते लहुट के आना..     रतिहा सजन मोर सपना म आए..     ऐ गड़ी कोई दर्द जिया के न जाने…     का

No Comments

No Comments Yet!

No Comments Yet!

But You can be first one to write one

Write a Comment

Your data will be safe!

Your e-mail address will not be published. Also other data will not be shared with third person.
Required fields are marked*