विशेष

सिरपुर म मिले हाथी के खायके दांत 50000 साल जुन्ना

हाथी दांत ले बनायगे चूड़ी घलोक विदेश मन म निरयात

रायपुर। छत्तीसगढ़ के पुरातात्विक स्थल सिरपुर म कुछेक दिन पाछू एक ग्रामीन के घर म नींव के खुदाई म अड़बड़ अकन हाथी के दांत मिले हे। पद्मश्री अरूण कुमार शर्मा ह बताइस कि सिरपुर म मिले ये दांत करीबन 50000 साल जुन्ना हे। उमन बताइन कि खोदाई म मिले ये दांत हाथी के खाए के ये। उमन ये घलोक बताइन कि पहिली सिरपुर म हाथी के देखाय वाले साबूत दांत घलोक मिले हे अऊ हाथी दांत ले बने चूड़ी घलोक मिले हे। उमन ये घलोक कहिन कि छठवां सेंचुरी बीसी म छत्तीसगढ़ ले हाथी दांत ले बनाय गे चूड़ी घलोक विदेश मन म निरयात होत रहिस हे।
पद्मश्री अरुण कुमार शर्मा के कहिनाहे कि ये क्षेत्र कई सदी ले हाथी मन के प्रजनन क्षेत्र रहे हे। छत्तीसगढ़ ले जल जहाज के माध्यम ले हाथी के निरयात अरब देश मन म होत रहिस। उमन के कहिना हे कि छत्तीसगढ़ ले हाथी के संबंध कई शताब्दी ले हे। पुरातत्वीय स्थल मन के उत्खनन ले एखर प्रमान मिलत हे। सरगुजा अऊ दूसर स्थल मन के खोदाई कहूं करे जाही त एखर अऊ प्रमान अवश्य मिलही। येकर संग श्री शर्मा इहू बताइन कि सिरपुर म एक बड़ाका मदिरा बनाय के संयंत्र घलोक मिले रहिस हे जेखर से पता चलथे के सिरपुर म मदिरा के व्यापार होत रहिस।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close