ताजा समाचारविशेष

कामकाजी महिला मन बर एक उदाहरण बन गेहे गीतांजलि

बीएससी सेकंड ईयर के छात्रा रोज बनाथे बड़े-बड़े ट्रक, ट्रेक्टर अउ कार के पहिया मन के पंचर

धमतरी। गीतांजलि साहू ह साबित कर दिस कि रोजगार बर न कोनो काम छोटे होथे न मुशिकल । धमतरी जिले के ग्राम कोलियारी के गीतांजलि साहू(19) चार पहिया वाहनो मन के पंचर बना लेत हे। बीएससी सेकंड ईयर के छात्रा रोज ये काम करती है। अपने पिता की दुकान संभालने वाली गीतांजलि में काम करने का अनोखा जज्बा है और अपना काम पूरा लगन अउ मेहनत ले करत हे। वो ह अपन बेहतरीन काम ले लोगन मन ल हैरान कर देथे। अतका छोटे से उमर म बड़े-बड़े ट्रक, ट्रेक्टर अउ कार के पहिया मन के पंचर आसानी ले बना लेत हे। कामकाजी महिला मन बर एक उदाहरण बन गेहे। ये रोजगार के एक नया क्षेत्र हवय।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close