ताजा समाचार

राजधानी म अंडरग्राउंड डस्टबिन प्रोजेक्ट म देरी…

कंपनी उपर कार्रवाई नइ कर पात हे अधिकारी मन ह

रायपुर । राजधानी के स्मार्ट सिटी कंपनी ह करोड़ों खरच कर सेंसर वाले डस्टबिन जरूर लगाव दिस हे। लेकिन कचरा उठाए बर ना निगम के पास कोनो मशीन हो अउ ना वाहन। जेखर ले डस्टबिन भरके बाद कचरा के निपटारा करे जा सकय।
राजधानी म खुला म गिर रहे कूड़ा ले निपटे बर स्मार्ट सिटी ह अंडरग्राउंड डस्टबिन के प्रोजेक्ट तैयार करिस हे। पूरा राजधानी म 50 जगह म अंडरग्राउंड डस्टबिन लगाए जात हे। 20 फीट लम्बा अउ 12 फीट चौड़ा ये डस्टबिन ल 10 फीट जमीन के भीतर अउ 4 फुट बाहिर रखे गेहे। बेंगलुरू के कंपनी ल 4.13 करोड़ म ये टेंडर दे गेहे। लेकिन इहां बिना कोनो तैयारी के ही नगर निगम ह ये प्रोजेक्ट ल सुरू कर दिस हे। पाछू के कतको महीना ले डस्टबिन धूल खात पड़े हे। जिहां डस्टबिन लगाए गए हे उहां ना कचरा के उठाव हो पावत हे अउ ना ही अंडर ग्राउंड डस्टबिन के उपयोग लोगन कर पावत हे। काबर कि एखर बर नगर निगम के पास अइसे कोनो हाइटेक मशीन या वाहन हे नइ जेखर ले कचरा उठाए जा सकय।
निगम कमिश्नर के कहिना हे कि कंपनी ह अब तक गाड़ी नइ हीं लाय हे। एखऱ् सेती प्रोजेक्ट म देरी होवत हे। रायपुर स्मार्ट सिटी कंपनी ह टेंडर ल लेके अइसे जल्दबाजी करे हे कि टेंडर देय ले पहिलि समय सीमा ल लेके स्पष्ट शर्त मन ल घलो रखना भूल गेहे। अब प्रोजेक्ट म कतको महीना के देरी के बावजूद अधिकारी चाह के कंपनी उपर कार्रवाई नइ कर पात हे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close