सियासत

 “बस्तर म कांग्रेसी किला ल ध्वस्त करे बर भाजपा ला बहाए ल पड़ही पसीना“

बस्तर के राजनीति म भाजपा ह सेंध लगाए के करत हे कवायद

रईपुर। छत्तीसगढ़ के राजनीति मा बस्तर के अलग ठौर हवय। इहां के 12 ठन विधानसभा हा राजनीतिक पार्टी मन के किस्मत ला चुनथे। ए साल चुनावी हवा एखर सति जम्मो पार्टीमन बस्तर मा चुनावी गणित बईठाए बर तीन-पांच करे म जुट गे हे। भाजपा के लम्बरदार नेतामन इहां के 12 सीट म नजर गड़ाए बईठे हे। एखर सति ओमन ह इहां के रास्ता नापेबर शुरू कर दे हे।

हाल मा पार्टी के अगुवा नेता मन में एक सौदान सिंह बस्तर के फेराकर आए हे। एखर बाद प्रदेश प्रभारी अनिल जैन बस्तर म तीन दिन कैम्प लगाए के तैयारी कर डरे हे। ओहा इहां के 12 सीट बर गणित बईठाही। एखर संगे-संग कांग्रेस के 8 सीट ला अपन हिस्सा म हथियाए बर माथापच्ची घलो करही। धियान दे के बात ऐ आय कि भाजपा हा बस्तर मा अपन खोए जमीन ला वापस लाए बर भरकस प्रयास करत हे। एखर अलावा मिशन 65 ला घलो ध्यान मा रखे हे। इहां पार्टी बर सबले बड़े चिंता ऐ बात के हावे कि मुंह फुलाए बईठे आदिवासी मन ल कईसे दुलारे जाए। दूसर कोती कांग्रेसी मन घलो अपन सीट ला बचाए बर रननीति बनाए के तैयारी करत हे। ओ हा भाजपा के राष्ट्रीय सह संगठन मंत्री के बार-बार बस्तर आवाजाही धियान म रखत अपन रणनीति घलो बनात हे। कांग्रेस के कहना हे कि ऐ दरी जनता मन ह काखरो नई सुने ऐखरे सति भाजपा नेता मन ल बस्तर म पसीना चुचवाए ल पड़त हे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close