रघुबीर…

रघुबीर…
Like This Video 0 234 jayjohar.com
Added by September 14, 2017
मैं ह आवों टूरा राईगढ़िया, असली छत्तीसगढ़िया..

 

 

माटी ल छोड़ झन जाना, जल्दी ते लहुट के आना..

 

 

रतिहा सजन मोर सपना म आए..

 

 

ऐ गड़ी कोई दर्द जिया के न जाने…

 

 

का मया के जादू डारे रे, का पिरित के दीयना बारे वो

 

 

संती ते सुन ले, बात मोर गुन ले..

 

 

काजर के कोठी म चंदा लुका गे वो…

 

 

जईसे चंदा अऊ सुरुज के, जईसे धरती अऊ गगन के..

 

 

सपना हो गे मन के बात, रे सुअना..

 

Similar Videos

बीए फर्स्ट इयर

0 91 3

ओ मोरे साजना, मने मन मोला अब रोवाली आए   आजा न आजा न आजाना रे, तें अब मोला झन तरसाना रे     मोरे मन के सजनी तैं, मोरे मन के सजना तैं..   खींच के मोला मार दिसे,

दू लफाडू…

0 80 3

आगू के जमाना नदा जाहि रे भैया….   संग म लाए हे नवा फंडा, पाछू म परहि डंडा.. पान म जईसे चूना कत्था, एक हे लस्सी एक हे मट्‌ठा नैन लड़ाले बात बढ़ाले ऐ बाबू… मस्ती म झूमे भंवरा रे,

मां के लाली चुनरिया (अलका चन्द्राकर)

0 64 1

लाली लाली चुनरी में सोन धरी लुगरा, अंग अंग गहना सजाए   लें हौं वो तोर नाव हों मां   ढोल बाजे रे, नंगाड़ा बाजे न   निर्मल पानी भवानी मां, ताल सगुरिया के हो   मना के लाबो जी,

No Comments

No Comments Yet!

No Comments Yet!

But You can be first one to write one

Write a Comment

Your data will be safe!

Your e-mail address will not be published. Also other data will not be shared with third person.
Required fields are marked*