ताजा समाचार

Exclusive: टैगोर जयंती विशेष…एक महीना गुजारिस हे पेंड्रा म उमन ह ….. वजह जानें

बिलासपुर रेल्वे स्टेशन म टैगोर के याद म लगे हे पत्थर

रायपुर। देस ल राष्ट्रगान जन मन गण देवइया नोबेल पुरस्कार विजेता रविंद्र नाथ टैगोर के जयंती मनाए जावत हे। टैगोर छत्तीसगढ़ आ रिहिन हे। न सिरफ आ रिहिन बल्कि एक महीना के वक्त उमन ह इहां के पेंड्रा म बिताइस हे। लोगन मन के कहिना हे कि पेंड्रा म अंग्रेज शासन काल म भारत के मशहूर टीबी हॉस्पीटल रिहस हे। इहां वो अपन पत्नी के इलाज के खातिर आए रिहन हे।
कुछु इतिहासकार ये भी मानथे कि टैगोर ह इहां रहत हुए कई ठन कविता मन ल लिखिस हे। टैगोर जइसे हस्ती ह जे जगह बखत गुजारिस वो ऐतिहासिक अस्पताल के आज जे हालत भारत म हे वो सर्मिंदा करत हे।
पेंड्रा के इस सेनेटोरियम हॉस्पीटल म आज 50 बिस्तर के बेवस्था हे । आस-पास कभु बड़े एरिया होत रिहस हे . जे म अब कब्जा हो चुके हे। परदेस के दूसर असपताल के जइसे इहां घलो डॉक्टर मन के कमी कई बच्छर ले हे। कुछु बखत पहिलि दू डॉक्टर मन बर विज्ञापन घलो स्थानीय प्रसासन ह जारी करे रिहस हे। ये बखत इहां टेंपरेरी डॉक्टर्स ले काम चलाए

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close