ताजा समाचार

नक्सली मन के पाकिस्तानी कनेक्सन म फिर मिलिस क्लू

जर्मन मेड G-3 रायफल मिले ले पुलिस के उड़िस होस

जय जोहर। किस्टाराम म जवान मन ह एक अइसे राइफल ल बरामद करिस हे, जे हैरान करइया हे। दरअसल जिला के किस्टाराम क्षेत्र म मुठभेड़ होइस हे। येखर बाद एसटीआरएफ अउ डीआरजी के टीम सर्चिंग बर निकलिस, तभो उमन ल पुटल्ली गांव ले जर्मन मैड जी-3 मिलिस। मिले जानकारी म छत्तीसगढ़ म पहली बार अइसे राइफल बरामद करे गेहे।
येला सेके पुलिस ह ये बात के पड़ताल करत हे कि परदेस म जर्मनी के ये राइफल कोन कोती ले आइस हे। अउ भारत म कोन जगह अउ कोन से फोर्स ये राइफल के उपयोग करत हे। नक्सली मन ह येला कोन जगह ले लूटा हे। पुलिस पूरा गंभीरता ले येखर जांच करत हे अउ जल्द ही ये गुत्थी ल सुलझा के कोशिश म लगे हे।
आपमन जानत होहूं कि सुरक्षा बल मन ल नुकसान पहुंचाए बर नक्सली मन ह अत्याधुनिक हथियार के उपयोग करत हे। पीछु दिन मन म नक्सली मन ले मुठभेड़ के बाद सुरक्षा बल मन ल मउवका मिले जर्मन मेड G-3 रायफल ह ये बात के पुष्टि कर दीस हे। नक्सली मन के पास आधुनिक हथियार मन के होय के खबर मन आवत रहिन हे, लेकिन ये बार येखर पुष्टि घलो होगे हे।
मिले जानकारी म पाकिस्तान के सेना जी-3 राइफल के प्रयोग लंबा बखत ले करत आवत हे। माओवादी मन के पाकिस्तान कनेक्शन के बात घलो लगातार उठत हवय। ये बरामदगी ले जांच एजेंसी मन के आगू भी एक नवा चुनौती उठ खड़े हे।
जी 3 के संग आतंकी संगठन के दहशतगर्द
नक्सली मन के पास पहुंचत हथियार मन के खेप के खेल सुरक्षाबल मन अउ गुप्तचर एजेंसी मन बर एक अबूझ पहेली बन चुके हे। एती सुकमा जिला के पुलिस अधीक्षक अभिषेक मीणा ह कहिन कि जर्मन मेड जी-3 राइफल ल कोन फोर्स इस्तेमाल करत अउ नक्सली मन ये केती ले लूटे हे येखर जांच करे जात हे।
का हे जी 3 के खासियत
7। 62 एमएम के ये रायफल म एक मिनट म 500 से 600 गोली दागे जा सकत हे। येखर मजल वैलोसिटी यानी कि गोली के रफ्तार 2 हजार 652 फीट प्रति सेकंड होथे हे। येखर कारगर फायरिंग रेंज 600 मीटर तक होवत हे। यानी 600 मीटर दूर म खड़े दुश्मन ल मार गिराये जा सकत हे। ये गन के मैक्सिमम फायरिंग रेंज 3700 मीटर तक होवत हे। येमा 20,30,50 या 100 गोली वाले ड्रम मैग्जीन ल लगाकर फायर करे जा सकत हे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close