मां के लाली चुनरिया (अलका चन्द्राकर)

मां के लाली चुनरिया (अलका चन्द्राकर)
Like This Video 0 18 jayjohar.com
Added by September 12, 2017
लाली लाली चुनरी में सोन धरी लुगरा, अंग अंग गहना सजाए

 

लें हौं वो तोर नाव हों मां

 

ढोल बाजे रे, नंगाड़ा बाजे न

 

निर्मल पानी भवानी मां, ताल सगुरिया के हो

 

मना के लाबो जी, मना के लाबो न

 

आएन तोर दुवारी म दाई, सेवा मंगल गाए

 

मैया जी ललाने परघाए मोर माता

 

ऐति झुन्ना डला के आमा डार म झुलत हाबे सातो बहिनी वो

 

Similar Videos

टूरी नंबर वन..

0 24 0

बाजे खुनुर खुनर तोर कंगना..   टूरी अलबेली, दिखथंव में भोली..   चले आबे संझा बियारा म, बड़ा मजा आहि अंधियारा म   हे करेजा, कहां जात हस वो करेजा निकाल के   कली खिलगे, फूल बनगे, कब आंखी चार

बिदाई..

0 40 3

जीवन जीए के नाम, मौज करव..   मैं घिर आयो घनघोर भंवर म….   मन ले मिलगे, मन ह तोर मोर…   गोबर दे बछरू गोबर दे…. टूरा कमाल के काम बेमिसाल के….   एक ठन रूमाल दे दे, प्यार के

तोर बिना का जीना रे..

0 93 5

तोर बिन कईसे जीहूं रे…   आई जाबे वो मोर रानी, बीच डोंगरी म मैं अगोर लेहुं..   बावा बिगड़ गे तोर ठसन म..   मच्छरदानी ल तान उतान परे हों खटिया म   मोर सतरंगी, खोजत रहिथों रे तोला

No Comments

No Comments Yet!

No Comments Yet!

But You can be first one to write one

Write a Comment

Your data will be safe!

Your e-mail address will not be published. Also other data will not be shared with third person.
Required fields are marked*