ताजा समाचार

20 अगस्त के राहुल गांधी जगदलपुर म

बस्तर म बूथ लेवल के रननीति म काम करत हे उंखर टीम

रायपुर । विधानसभा चुनाव म बीजेपी अउ कांग्रेस दूनों ल बस्तर ले बड़ उम्मीद हे। इही वजह हो के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दउरा के बाद अब कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी घलो 20 अगस्त के आवइया हे।
राहुल के करीब एक दर्जन आदिवासी नेता मन के टीम ह पाछू के दू महीना ले बस्तर म बूथ लेवल के रननीति म काम करत हे। अब उहां खुद राहुल जाके संगठन के कामकाज के समीक्षा कर ही। बतादन के प्रधानमंत्री मोदी पाछू के डेढ़ बच्छर म बस्तर के दू बार दउरा कर चुके हे। येकर साथ ही उहां बर तीस हजार करोड़ तक के काम घलो सुरू कर चुके हे। भाजपा संगठन घलो बूथ स्तर म उहां बड़ फील्डिंग करत हवय।
पांच साल पहिली 2013 के विधानसभा चुनाव म कांग्रेस ह बस्तर के 12 म ले 8 सीट जीत के भाजपा ल बड़ झटका दे रिहिस हे। ये
बार समय ले पहिली भाजपा घलो अलर्ट हो गेहे। एक तरह ले प्रधानमंत्री मोदी ह खुद बस्तर के कमान संभाल ले हे। उमन पाछु एक साल म दो-तीन बार बस्तर क दउरा कर चुके हे। उमन ह पाछू माह म भिलाई ले बस्तर बर कुछु योजनामन के सुरुआत घलो करिन। ये दउरा उंखर के बस्तर म आदिवासी वोटर मन ल लुभाय के कदम के तउर म देखे जात हे।
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी घलो बैक टू बैक छत्तीसगढ़ दउरा करत हवय। अउ बस्तर प्लान के पूरा रननीति के तहत आगू बढ़त हे। उमन ह पाछू साल म दू दिन बस्तर म गुजारइन हे। अब उमन उहां अपन करीबी मन के संग बूथ लेवल के रननीति न फील्ड म उतारे म जुट गे हे। राहुल ह दू महीना पहिली प्रदेस प्रभारी अरुण उरांव के संग 14 लोग मन के टीम बस्तर म तइनात कर दे हे।
राहुल के दउरा के लेके पीसीसी चीप भूपेश बघेल ह मंगलवार के दिल्ली म प्रदेस प्रभारी पीएल पुनिया के संग बइठक घलो के कार्यक्रम ल अंतिम रूप दिस ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close