Home ताजा समाचार सुविधा वाले स्कूल बर धन्यवाद, अब मैं कलेक्टर बनके दिखाउं हूं

सुविधा वाले स्कूल बर धन्यवाद, अब मैं कलेक्टर बनके दिखाउं हूं

87
0

जशपुर । मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह बर मंगलवार के बिहनियां के नाश्ता करे के बेरा म माहुल खुशनुमा हो गे जब उमन ल 5वीं कक्षा के छात्रा प्रियंका ह ब्रेल लिपि म अंकित धन्यवाद पत्र पढ़के सुनाइस अउ कहिस कि ‘अतका सुविधा वाले स्कूल बर धन्यवाद, अब मैं ह कलेक्टर बनके दिखाउं हूं’।
दरअसल मुख्यमंत्री डॉ सिंह के संग नाश्ता के टेबल म शासकीय नेत्रहीन विशेष विद्यालय के 19 बच्चे रहिन हे । पांचवी कक्षा की नेत्रहीन नोनी प्रियंका ह कवि हरिवंश राय बच्चन के ‘लहरों से डरकर नौका पार नहीं होती’ कविता सुनाईस तव मुख्यमंत्री ह तुरंते कहिन कि ‘ये कविता ले तो मैं हूं प्रेरित होथव। एखर बाद प्रियंका ह ब्रेल लिपि म धन्यवाद पत्र पढ़कर सुनाइस। सीएम ह ये धन्यवाद पत्र ल यादगार पत्र बताइस अउ कहिन कि अपन संग ले जात हव।
प्रियंका ह सीएम ल ये घलोक बताइस कि ‘ मैं तो देख नइ पाव लेकिन हमार स्कूल म जे आथे अउ वो ह कहत हे कि तुंहर स्कूल अबड़ सुघर हे। तो हमन बहुत बढ़िया लगत हे। मैं ह खूब पढ़ हू अउ एक दिन कलेक्टर बनके दिखा हूं कि ये नोनी ये स्कूल के पहिली फाउंडर नोनी हे, जे ला फरसाबहार विकासखण्ड के माटीपहाड़ छर्रा गांव ले 2013 म लाए गे रिहिस हे।
नाश्ता के दउरान पहिली कक्षा के विशेष बालक राजू ह सीएम ल 26 के पहाड़ा सुनाइस,तव सीएम ह चकरा गे अउ कहिन कि 26 के पहाड़ा तो ओला खुद नहीं आवय। समाज कल्याण विभाग के ये विद्यालय के अधीक्षक विनय तिवारी के कहिथे कि
सबो लइका मन प्रतिभावान हे अउ येखर प्रतिभा देखके खुद सीएम घलोक काफी खुश होगे। ये शासन की दृष्टिबाधित लइका मन बर करे गे काम के सुखद परिणाम हे। दृष्टिबाधित लइका संग नाश्ता के दउरान कलेक्टर डॉ प्रियंका शुक्ला, भाजयुमो प्रदेश उपाध्यक्ष प्रबलप्रताप सिंह जूदेव, खादी ग्रामोद्योग आयोग के अध्यक्ष कृष्णकुमार राय घलोक लइका मन के प्रतिभा देखके खूब तारीफ करिस।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.