Home ताजा समाचार अभु घलोक लालटेन अउ डिबरी के सहारे जीना पड़त हे ये ग्राम...

अभु घलोक लालटेन अउ डिबरी के सहारे जीना पड़त हे ये ग्राम पंचायत मन के लोगन ल

28
0
गांव ह विकास ले कोसों दूर हे।
कतको बार लोक सुराज, जनदरसन म आवेदन दिस, लेकिन नतीजा सिफर रहिस

कोरिया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ह दावा करिन हे के देस के हर गांव म बेजली पहुंचाये जाही। मुख्यमंत्री रमन सिंह घलो अटल विकास यात्रा लेके निकले हे अउ हर घर ल रोसन करे के बात करत हे, लेकिन दावा त साहेब जिला के मनेंद्रगढ़ विकासखंड म आवइया कतको ग्राम पंचायत मन ह दमतोड़ देवत हे।
मनेंद्रगढ़ विकास खंड म आवइया कतको ग्राम पंचायत मन के लोगन ल अभु घलोक लालटेन अउ डिबरी के सहारे जीना पड़त हे। बेजली के समस्या ल लेके ग्रामीन मन ह कतको बार लोक सुराज, जनदरसन म आवेदन दिस, लेकिन नतीजा सिफर रहिस। हालांकि आश्वासन त कतको बार मिलिस। ग्रामीन मन के कहना हे के बेजली ना होय ले गांव ह विकास ले कोसों दूर हे।
मोबाइल चारज करे बर जाथे दूसर गांव
जिला मुख्यालय बैकुंठपुर ले लगभग 80 किमी दूर ग्राम पंचायत पहाड़ हसवाही के कतको गांव म आज घलो बेजली नइ पहुंच पाइस हे। गांव म बेजली नइ होय ले इहां के लोगन मन मोबाइल चारज कराय बर दूसर गांव म जाथे। उहें गेहूं पीसय बर घलो उमन ह दूसर गांव के ही सहारा लेना पड़त हे।
संझा होवत ही इहां छा जाथे अंधियार
बेजली न होय के कारण पूरा गांव संझा ढलत ही अंधेरा के आगोस म समा जाथे। उहें सबले जादा दिक्कत छात्र-छात्रामन ल होथे, जे मन ल पढ़े बर लालटेन के सहारा लेना पड़त हे। बरसा काल म त इहां के ग्रामीन मन के जान आफत म आ जाथे, जब उमन जहरीला जीव जंतु मन खतरा बने रहिथे।
ये बारे म गांव के सरपंच के कहिना हे के उमन कतको बार ग्रामीन मन ल लेके वेभाग के आला अधिकारी मन ह लोक सुराज अभियान म आवेदन घलो देय हन , लेकिन सिवाय आस्वासन के आज तक कुउ नइ होइस। बेजली नइ होय ले ग्राम पंचायत पूरी तरह ले विकास के दउड़ म बहुत पीछे हवय।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.