भाजपा प्रत्यासी मन के पक्छ म चुनावी सभा
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ह महासमुंद म चुनावी सभा ल संबोधित करिन

महासमुंद। पीएम ह कहिन के कांग्रेस के शासनकाल म रमन सिंह ह नक्सली मन ले लड़े बर आधुनिक हथियार मांगत रहिस हे, जवान मांगत रहिस हे लेकिन रिमोट कंट्रोल वाले सरकार ल अइसे लगत रहिस हे के हिंदुस्तान म छत्तीसगढ़ नइ हवय। पीएम ह कहिन के हमार जादा बखत नकारात्मक सक्ति मन ले लड़े म चले गिस । पीएम ह कहिन के छत्तीसगढ़ के फले-फूले के पहिली अवसर तब आइस जब दिल्ली म भाजपा के सरकार आइस।
छत्तीसगढ़ राज्य म दूसर चरन के चुनाव प्रचार के अंतिम दिन रविवार क प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ह महासमुंद म चुनावी सभा ल संबोधित करत हुए कहिन के इहां हजारों लोगन धूप म खड़े होके मोर भासन सुनत रहिस हे उमन म ये विस्वास दिलात हव के तुमन के तपस्या बेकार नइ जान दन अउ विकास करके ब्याज संघरा आपमन ल लउटाबो।
महासमुंद म भाजपा प्रत्यासी मन के पक्छ म चुनावी सभा म श्री मोदी ह आज भाजपा प्रत्यासी मन ल जीताय बर अपील करिस हे उमन अपन भासन म कहिन के चुनाव प्रचार के अंतिम दिन होय के बावजूद ए सभा म जो तरह ले भीड़ देखत हव अइसन भीड़ कोनो चुनाव प्रचार के अंतिम दिन सभा म नइ होय। काबर के चुनाव प्रचार के अंतिम दिन रैला मन के कारयकरम करे के दिन होथे।
उमन कहिन के ए सभा म बड़ संख्या म लोग धूप म घलो खड़े होके मोर भासन सुनत हे। उमन कहिन के हमार पंडाल लगाय के बेवस्था छोटे होगिस, इहां के जनता के प्यार जादा उभर कर आइस हे। एखर सेती हमार व्यवस्था म जे असुविधा आप मन ल होइस हे, ओखर बर मैं क्षमा मांगत हव। श्री मोदी ह कहिन के मैं आप लोगन ल विस्वास दिलात हव के आपक मन के तपस्या बेकार जान दन। विकास करके ब्याज संघरा आप मन ल लउटाबो।
प्रधानमंत्री ह मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह के कारयकाल म छग म होय विकास कारय मन के प्रसंसा करत हुए कहिन के सही माने म 15 बछर म सिरिफ साढ़े चार बछर म रमन सिंह ल इहां काम करे के सुविधा मिलिस हे । काबर के एखर पहिली दिल्ली म रिमोट कंट्रोल ल चलइया सरकार बइठे रहिन हे, जेखर रिमोर्ट अइसे परिवार के हाथ म रहिल हे जे रमन सरकार के एक बात सुनत नइ रहिन। विकास बर रमन सिंह ल लड़ाई लड़ना पड़ीस हे।
श्री मोदी ह कहिन के छग के फले-फुले के पहिली अवसर दिल्ली म भाजपा के सरकार बनीस तब मिलिस। अगर अइसे ही भाजपा ल 10-15 बछर अउ मिल जाय त छग हिन्दुस्तान म पहिली तीन राज्य मन म आ जाही । उमन कहिन के अब दिल्ली म जनता ले कंधा से कंधा मिलाके काम करइया प्रधानमंत्री बने हे त इहां विकास कइसे होही आपमन समझ सकत हव।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.