Home ताजा समाचार खुसी के ठिकाना नइ रहिस सिक्छाकरमी मन के…. वजह जानव

खुसी के ठिकाना नइ रहिस सिक्छाकरमी मन के…. वजह जानव

42
0

रायपुर । छत्तीसगढ़ के सिक्छाकरमी मन ल संविलियन के बाद पहिली बार महीना के आखिरी तारीख के वेतन मिल गिस, हे। 23 बरस के इंतजार के बाद सिक्छाकरमी न न केवल सिक्छाकरमी बनिस अउ उमन ल सातवां वेतनमान के लाभ लो मिलिस हे। अइसे पहिली बार होइस हे जब उमन ल पहली तारीख ले एक दिन पहिली वेतन मिलिस हे, वरना अक्सर दू- तीन महीनी म वेतन मिलत रहिस हे। उमन ल जइसे ही बढ़े हुए वेतन के मैसेज आइस वइसे उंखर मन के खुसी का ठिकाना नइ रहिस ।
संविलियन के बाद वेतन म इजाफा तो होइस हे संगे-संग सासकीय करमचारी ल मिलइया समस्त अन्य भत्ता घलो प्रदान करे गिस हे। मकान भत्ता,चिकित्सा भत्ता, गतिरोध भत्ता के भुगतान करे गेहे, उंहे सीपीएस म घलो अब समग्र वेतन के अनुरूप कटौती प्रारम्भ होगिस हे। पहिली केवल मूल वेतन के 10% हिस्सा ही NSDL के खाता म जाता रहिस हे, जेकर ले प्रत्येक सिक्छाकरमी के pran खाता म अब पहिली ले 3 ले 4 गुना जादा रासि जमा होही। जतका करमचारी के खाता म कटही उतका ही रासि सरकार घलो वो खाता म जमा करेही। अब समूह बीमा अउ ग्रेज्युटी के लाभ घलो ये संवरग ल प्राप्त होही।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.