Home विशेष राहुल गांधी ल श्याम राव के जबाव…. ‘नाला ले गैस निकालो अउ...

राहुल गांधी ल श्याम राव के जबाव…. ‘नाला ले गैस निकालो अउ पकौड़ा बनावव’

35
0
Shyam Rao Shirke

रायपुर। राजधानी के 11वीं पास मैकेनिक कांट्रैक्टर श्याम राव शिर्के ह अइसे बेहतरीन काम कर के दिखाया हे। जेकर वजह ले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ह उंखर जिकर करिस हे। हाल म प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ह अपन एक कारय करम म श्याम राव शिर्के के नाला ले निकले गैस के इस्तेमाल कर चाय बनाय के तकनीक के जिकर करे रहिस हे। पीएम मोदी के बयान ल सोसल मीडिया म जमके मजाक उड़ाय गिस। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ह घलो उंखर उपर तंज कसत हुये कहिन के पीएम मोदी के कारयकरम हे ‘नाला ले गैस निकालो अउ पकौड़ा बनावव’। लेकिन इही तरीका के इस्तेमाल करइया छ्त्तीसगढ़ के श्याम राव शिर्के ह मजाक उड़ाइया मन ल जवाब देय हे अउ राहुल गांधी उपर जमके बरसिस हे।
श्याम राव शिर्के ह बताइस के नगर निगम के लोगन मन ह हमर पहिली तकनीक के अहमियत नइ समझीस अउ हमार सामान ल उठाके फेंक दिस। कुछु लोगन मन ह मोला एफआईआर दरज कराय के सलाह दीस। लेकिन मोर पास पइसा नइ रहिस हे। येकर सेती मै ह कुछु नइ कर सकेव। राहुल गांधी ह ये तरह के गैस के उत्पादन ल लेके जे कहिस वो मोला पसंद नइ आइस , मैं ह सोचे नइ रहे हव के उमन अतका अपरिपक्व हे।
मीथेन गैस के रसोई गैस के तरज म उपयोग
दरअसल रायपुर के चंगोराभाठा म रहइया श्याम राव शिर्के ह देसी तकनीक ले अइसे उपकरन तइयार करे गिस, जे नाली अउ नाला मन ले निकलइया मीथेन गैस ल रसोई गैस के तरज म उपयोग करे म मदद करथे। ये उपकरन के सहारा ले कोनो गैस चूल्हा लगाके मीथेन गैस के उपयोग खाना बनाय बर कर सकत हे। जल्द ही ये ला रायपुर के कुछु चुनींदा नाला अउ नाली मन म स्थापित करे जाही।
अइसे करिस अविस्कार
नाला के गैस ले पकौड़ा बनाइया श्याम राव शिर्के ह बताइस के उमन कइसे येकर आविस्कार करिस। शिर्के ह बताइस के उमन नाला के पानी ल इकट्ठा करे बर एक मिनी कलेक्टर बनाइस ताकि पानी ले निकलइया गुबार मन ल इकट्ठा करे जा सकय। येकर बाद गैस ल इकट्ठा करे बर एक ड्रम के इस्तेमाल करिन। ये प्रयोग सफल रहिस। शिर्के ह बताइस के नाला ले निकइया गैस ल स्टोव ले कनेक्ट कर दिस अउ फेर चाय बनाइस। शिर्के के मुताबिक नाला ले निकलइया वाली खराब गैस परयावरन ल नुकसान पहुंचाइस हे। लेकिन अब येकर इस्तेमाल अइसे चीज मन बर किए जा सकत हे।
श्याम राव ह कहिन ‘वैज्ञानिक मन ह मोला बताइस के मोर पेपर उच्च अधिकारी मन ल भेजे गिस हे। ये 2 साल हो चुके रहिस हे, मैं येकर बारे म भूल गे रहेव। जब मोला पता चला के मोदी जी ह अपन भासन म मोर आविस्कार के उल्लेख करे हे।’ उमन बताइस के ओला कोनो वित्तीय मदद नइ मिलिस हे। नगर पालिका निगम के लोगन मन ह उपकरन ल फेंक दिस अउ कहिन के ये बेकार हे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.