विशेष

पढ़ई-लिखई तो एमटेक… फेर काम-बूता ठेठ किसानी

देखे-सुने मा ए बात जतका असहज, ओतके ज्यादा प्रेरक हे वल्लवी के कहानी

महासमुंद ले मनीष सरवैया के रिपोर्ट….

jayjohar.com. लगन अऊ मेहनत से करे जाए ते कोनो काम खराब नई होवय, कुछ अइसने किसम के रद्दा देखावत हे बागबाहरा विकासखंड के सिर्री पठारीमुड़ा के बेटी वल्लवी चंद्राकर ह। ओ वल्लवी, जेखर पढ़ई-लिखई तो एमटेक तक हे…फेर काम-बूता ठेठ किसानी। बिल्कुल…. देखे-सुने मा ए बात जतका असहज लागत हे…ओतके ज्यादा प्रेरक हे वल्लवी के कहानी…कईसे, ए जाने बर आवव देखथन …जय जोहार के ए खास रिपोर्ट…

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close