Uncategorized

धान के संग लाख पालन करत 67 हजार 8 सौ रूपिया कमाइस प्रकाश ह

1 एकड़ जमीन म ड्रिप पद्धति म सेमियालता पौधा रोपण करिन

उत्तर बस्तर (कांकेर) । कांकेर विकासखण्ड के दशपुर निवासी उन्नतशील कृषक  प्रकाश चन्द निषाद युवा कृषक हे, जऊन अपन डेढ़ एकड़ जमीन म पारम्परिक विधि ले धान के खेती करत रहिन, संगे संग खेत मन के तीर-तखार के कुसुम के रूख मन ल लीज म लेके लाख पालन करत रहिन। जेखर से साल म इनला करीबन 67 हजार 8 सौ रूपिया तक के आमदनी पात रहिन। 2016
-17 म कृषि विज्ञान केन्द्र कांकेर ले सम्पर्क करके इमन ह सेमियालता म लाख के खेती करना सुरू करिन।
कृषि विज्ञान केन्द्र कांकेर ले राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के अंतर्गत इनला ड्रिप अउ सेमियालता के पौधा देहे गीस। इमन अपन 1 एकड़ जमीन म ड्रिप पद्धति म सेमियालता पौधा रोपण करिन। काबर कि लाख के खेती बर पौधा तैयार होए म पहिली साल म एक साल के समय लगथे, ए अवधि म उमन अन्तवर्तीय सब्जी के खेती वैज्ञानिक विधि ले प्रारम्भ करके करीबन 40 हजार के आमदनी प्राप्त करिन अउ सेमियालता बीज ले 36 हजार के आमदनी प्राप्त कर लीन। अउ 0.5 एकड़ जमीन म खरीफ मौसम म धान के फसल अउ रबी मौसम म मक्का के फसल लेहे ले इमन ल 32 हजार 2 सौ रूपये के आमदनी होइस। सेमियालता पौधा म जून म लाख बीज के निवेशन करे गीस जेखर से इनला करीबन 1 लाख रूपिया के आय होइस। प्रकाश के प्रक्षेत्र के भ्रमण इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ एस. के. पाटिल, छत्तीसगढ़ योजना आयोग के सदस्य अउ पूर्व डायरेक्टर लाख ह करे रहिन। इनखर उत्कृष्ठ काम बर इमन ल भारतीय लाख अनुसंधान केन्द्र रांची म सम्मानित करे जा चुके हे। ए क्षेत्र के किसान मन बर श्री निषाद ह एक उदाहरण बनके मिशाल कायम करे हे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close