Home ताजा समाचार बारात म खाना कम परोसे बर टोके के खामियाजा युवक ल अपन...

बारात म खाना कम परोसे बर टोके के खामियाजा युवक ल अपन जान से देना पड़ गे.. कहां के हे मामला पढ़व पूरा खबर

298
0
Murder on minor dispute

जय जोहार. पाछू दिन म बिरझेर के चटौद म नहर किनारा मिले लाश के गुत्थी ल पुलिस ह सुलझाए के दावा करे हे। फेर ऐ हत्या के वजह ल जानके समाज म फैलत अपराध अऊ घृणा ल जम्मो ल चिंता म डाल दिही। बात सिरिफ अतकेच रिहिस कि बारात म खाना कम परोसे ल लेके के होवईया एक नानकून विवाद ह हत्या म जाके खतम होईस। पुलिस ह मामला म दुल्हन के भाई संग ओखर दो दोस्त ल गिरफ्तार करे हे।

युवक के लाश ह बिरझेर म चटौद के नहर पार म चार दिन पहिली मिले रिहिस। लाश ह पत्थर ले बंधे रिहिस। मिले जानकारी के मुताबिक पुलिस ल जब लाश मिलिस तब ओखर हाथ बंधाए रिहिस अऊ थैला म पत्थर रखके ओखर पीठ म बांध दे गे रिहिस। लाश के शिनाख्ती चटौद निवासी वेद प्रकाश साहू (19) के रूप म होए रिहिस। पोस्टमार्टम रिपोर्ट म घलो ऐ बात के पुष्टि हो गे हे कि पहिली युवक के सिर म भारी चीज ले वार करे रिहिन बाद म ओखर गला दबाके हत्या कर दे गे रिहिन।

मामला के गुत्थी ल सुलझाए बर पुलिस के एक विशेष टीम के गठन करे गिस। जांच म पता चलिस कि बिरझेर ले एक बारात रायपुर म तेलीबंधा क्षेत्र के फुंडहर गांव म 23 अप्रैल के गे रिहिस। इही बारात म मृतक वेद प्रकाश घलो गे रिहिस। जिहां ओखर लड़की वाला मन ले विवाद हो गे। अगले दिन लड़की वाला मन चौथिया ले के आए रिहिस तभो विवाद हो गे रिहिस। इही कड़ी ल धियान म रखके पुलिस के के जांच जारी रिहिस अऊ पुलिस ह दुल्हन के भाई हितेश साहू, ओखर दोस्त खोमेश निषाद अऊ दीपक साहू ल हिरासत म लेके पूछताछ शुरू कर दिस।

पूछताछ म पता चलिस कि फुंडहर गांव म गे रिहिस बारात म बाराती मन ल कम खाना परोसे ल लेके मृतक वेदप्रकाश ह आपत्ति करे रिहिस। इही कारण ले ओखर संग विवाद होईस। बिहाव के बाद बारात उही दिन चटौद लौट आईस। एखर बाद दूसर दिन 24 अप्रैल के आरोपी हितेश ह अपन दोस्त खोमेश, दीपक व अन्य के साथ मिलके फुंडहर ले चटौद चौथिया गे रिहिस।

इहां घलो डांस के समय फेर वेद प्रकाश ले आरोपी मन के विवाद हो गे। बाद म बीच बचाव कर मामला ल शांत करे गिस। थोड़किन देर बाद वेद प्रकाश ह मोबाइल म बात करत-करत नहर कोती चल दिस। इही मौका के फायदा उठाके आरोपी मन घलो ओखर पीछे-पीछे चल दिस। आरोपी खोमेश ह एक पत्थर ल उठाके वेद प्रकाश के मुंडी म हमला कर दिस। लहू लुहान होके वेद प्रकाश उंहे गिर गे। एखर बाद हितेश अऊ दीपक ह गला दबाके वेद प्रकाश म मौत के मुंह म पहुंचा दिस।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.