Home विशेष जनमिलिशिया दलम के निकल गे तोड़.. लाल आतंक के गढ़ म पुलिस...

जनमिलिशिया दलम के निकल गे तोड़.. लाल आतंक के गढ़ म पुलिस ह करही ए काम

76
0
Red Terror Break

दंतेवाड़ा. जनमिलिशिया दलम… एक अईसे दल जेन ल नक्सली मन के प्रभाव वाला इलाका मन के रीढ़ कहे जाथे। इही दल ऐ जेन ह लाल आतंक ल गांव-गांव मजरा टोला म प्रचारित करथे अऊ लोगन मन ल भरमाथे कि नक्सली मन ओखर सच्चा हितैशी आए। ऐ परिस्थिति ले निपटे बर लाल आतंक के रीढ़ म अब हथौड़ा चलाए के प्लान पुलिस अऊ फोर्स ह घलो कर डरे हे जेखर तहत गोंडी भाखा म लघु फिलिम बनाए के प्लान हे…..

बता देन कि जनमिलिशिया दलम के माध्यम ले नक्सली मन गोंडी म फिलिम बनाके अऊ गांव-गांव म गाना बजाना करके नक्सलवाद के प्रचार करत हे। इहां तक नानकून लईका मन के मन ल देश विरोधी बनाए बर ब्रेन वॉश करत हे। एखर जवाब अब दंतेवाड़ा पुलिस दे के तियारी म हे। अब पुलिस ह घलो क्षेत्रीय बोली हल्बी- गोंडी म देशभक्ति के लघु फिलिम अऊ गाना बनवाही। ऐ गाना ल ग्रामीण मन के बीच म पहुंचाही। संगे संग उहां संचालित आश्रम स्कूल, पोटा केबिन अऊ हॉस्टल मन म लईका मन ल मेमोरी कार्ड म डालके दिही। ताकि ओमन अपन संग के दूसर लईका मन ले ऐला दिखा सके। ऐ जम्मो फिलिम ह देशभक्ति ले भरे होहे। ऐखर ले लईका मन भारत के संविधान बर आस्था रखही।

ऐ फिलिम ल पुलिस जवान मन खुदे बनाही जेन मन ह हल्बी अऊ गोंडी भाखा के जानकार हे। ऐखर बर भाखा के जानकार जवान मन ल चिन्हांकित करके ओमल ल जिम्मेदारी दे जात हे। ऐमा लाल आतंक के साया म अपन दिन बीतईया अऊ लोगन मन ल सुरक्षा देवईया जवान अऊ उहां के परिस्थिति ल फिल्माए जाही। ऐखर पीछे मंशा इही हे कि ऐला देख के लईका मन के मन म देशप्रेम अऊ अपन क्षेत्र बर परेम के भावना पैदा हो सके।

ऐ बिडियो अऊ गाना ल हर हफ्ता इतवार के दिन आवासीय संस्था अऊ स्कूल के लईका मन ल दिखाए जाही। संगे-संग लईका अऊ अऊ ग्रामीण मन ल ऐ देशभक्ति फिलिम दे जाही। नक्सली मन के मंसूबा ल नाकाम करे के ऐ प्लान के शुरूआत तब होईस जब हाल ही में नक्सली मन डाहर ले लईका मन के ब्रेन वॉश करे के साजिश के खुलासा होईस। पोटा केबिन म पढ़ईया एक लईका ले मोबाईल जब्त करे गे रिहिस जेमा नक्सली मन के कई विडियो मिले रिहिस।

पुलिस अधिकारी मन कहिथे कि कोनों भी इलाका म रहवईया मनखे मन बर ओखर खुद के बोली ज्यादा प्रभावित करथे। हल्बी अऊ गोंडी म फिलिम के संख्या नहीं के बरोबार हे। अईसे म ऐ प्लान के जरिया इही मंशा हे कि लोगन मन देशभक्ति कोती ज्यादा कनेक्ट हो सके। अभी तक देखे गे हे कि अंदरूनी गांव के अधिकतर आबादी ल हिंदी नई आए जेखर फायदा नक्सली मन उठाथे। अऊ होथे ए कि मनोरंजन बर अईसे विडियो ल देख के ओखर दिमाग म बुरा असल पड़थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.