विशेष

पांच दिन पहिली जिहां मना ले जाथे फागुन के तिहार

काबर आपो मन देखव हमर ऐ खास रिपोर्ट…..

कोरिया ले पद्मनी मरावी

जय जोहार.. हमर छत्तीसगढ़ ह अपन विविधता अऊ परंपरा ले दुनिया भर के मनखे मन के उत्सुकत्ता के कारण बने हावे। इहां के विशिष्ट पहचान हमर माटी के कण-कण म बसे परंपरा हे। एक अईसने परंपरा ले हमन आ मन ल रू-ब-रू करावत हन जिहां फागुन तिहार के मस्ती पांच दिन पहिली हो जथे। हमन बात करत हन कोरिया जिला के अमरपुर (लिट्‌टीमार) गांव  के जिहां होली के तिथि ह देशभर म मनाए जाए होली के पांच दिन पहिली होथे। मान्यता हे कि अमरपुर गांव म हर साल हैजा अऊ मौसमी बीमारी के प्रकोप पूरा गांव ल अपन चपेट म ले लेत रिहिस। एखर चलत गांव के कई मनखे काल के गार म समा जात रिहिस। ऐ गांव के पुराना गांव लिट्‌टीमार हे। इहां कोरिया स्टेट के राजा अऊ गांव के पुजारी, बईगा मन ह अईसन बीमारी ले बचे खातिर फसला लिन के देवता ल प्रसन्न करे जाए। एखरे सेति गांव म होली पांच दिन पहिली मनाए के परंपरा ल शुरू करे गे रिहिन। गांव वाला मन के मानना हे कि जब ले ऐ परंपरा ल शुरू करे गिस तब ले गांव म बीमारी के प्रकोप नई होवय। कोरिया स्टेट के तात्कालीन राजा ह तब गांव के नाम ल लिट्टीमार ले बदल के अमरपुर घलो घोषित करिन। तब ले लेके अब तक गांव म पीढ़ी दर पीढ़ी ऐ परंपरा के निर्वहन करे जात हे।

देखव पूरा रिपोर्ट……………

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close