ताजा समाचारविशेष

इहां कोनो असहाय सियान भूखा नइ सोवय …. ये जाने बर पढ़व

सेवा सरिता के पहल ले 30 महिला-पुरूष ल मिलथे भोजन

रायपुर । बालोद जिला के दल्लीराजहरा म महिला समूह के एक अनूठा पहल सामने आईस हे। इखर सेवा भावना के चलत कोनो असहाय सियान भूखा नइ सोवत हवय। आपन ल बता दन कि जिला के असहाय सियान बर जिला के महिला समूह ह खुद हो के खाना बनाके टिफिन ले उंखर घर म भोजन पहुंचात हवय। ये काम बर महिला मन ह अपन घर के जम्मो काम निपटाए के बाद समय निकालथे। एखर बाद एक घर म इकट्ठा होके सब्बों महिला मन मिलजुल के खाना बनाथे। फेर ये भोजन ल टिफिन म पैक करके सियान तक पहुंचात हवय।
सियान मन बर सेवा भावना लिए दल्लीराजहरा के सेवा सरिता समूह के करीब 12 महिला मन पीछू 6 महीना ले लगातार ये काम म जुटे हवय। समूह के महिला मन के मानन तव ये काम ल करे ले उंमन ले अब्बड़ सुकून मिलथे। आज ये महिला मन के चलत दल्लीराजहरा नगर म कोनो भी असहाय सियान भूखा नई सोवत हवय। बता दन कि ये महिला मन दल्लीराजहरा के वार्ड क्रमांक 5 म अइसे सियान मन ल भोजन पहुंचात हवय, जे गरीब, बेसहारा अउ शारीरिक रूप ले कमजोर हवय। महिला मन के कहिना हे कि दल्लीराजहरा म अइसे चुनें हुए 30सियान महिला अउ पुरुष हवय। जेमन ल उंमन रोजाना फोकट म भोजन पहुंचत हवन। महिला मन ह बताइन कि उंखर ये काम म परिवार घलो पूरा सहयोग करत हे। समूह के महिला मन कहिन कि शुरु म 3 महिला ये काम म लगे रहिस हे। ओखर बाद समय के संग- संग ये काम म अउ महिला मन जुड़त चले गिस।
दरअसल, एक महिला मन के सोचा हवय कि शहर म कई अइसे सियान हवय जे ल खाना नइ मिल पावत हे। इखर मन के कोनो नइए। घरवाले रहे के बाद भी कोनो उंखर मन बर ध्यान नइ देवत हे। अइसे सियान के ख्याल रखे बर महिला मन ह इक्कठा होके टिफिन बनाए बर निर्णय लिस हे।
महिला मन बताइन कि एक मंदिर के भंडारा म देखिन कि कुछ गरीब अउ असहाय सियान भोजन करत रिहिन हे। तभे उंखर मन म ख्याल आइस कि आज तो इमन ल भंडारा म भोजन मिल गेहे। एखर बाद बाकी के दिन म ये बुजुर्ग का करत होही अउ कैइसे भोजन बनाथे या खाथे। बस उही दिन ले अइसे असहाय अउ आर्थिक रूप ले परेशान सियान बर उंमन भोजन पकाए के निर्णय ले लिस।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close