ताजा समाचार

किसान मन ल सिंचाई बर मिलही फोकट म बिजली : डॉ. रमन सिंह

प्रति बरस तीन हापा तक ल छह हजार अउ पांच हापा तक ल साढ़े सात हजार यूनिट फ्री

0 राज्य सरकार खर्च करही पौने तीन हजार करोड़ ले ज्यादा राशि
0 प्रदेश के 4.52 लाख किसान मन ल मिलही फायदा
0 अनुसूचित जाति-जनजाति वरग एक लाख ले ज्यादा किसान मन ल सिंचाई बर बिजली फोकट म
0 सौर सुजला योजना के तहत 25 हजार किसान मन के खेत म लगाए गए सोलर सिंचाई पम्प
रायपुर । राज्य सरकार के कृषक जीवन ज्योति योजना के तहत छत्तीसगढ़ के किसान मन ल सिंचाई बर रियायती बिजली दे बर नवा वित्तीय बरस 2018-19 म पौने तीन हजार करोड़ रूपिया ले ज्यादा अर्थात 2975 करोड़ रूपए के बजट प्रावधान करे गेहे। प्रदेश के चार लाख 52 हजार किसान मन ल एखर फायदा मिलही।
ऊर्जा विभाग के कमान संभालइया मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ह बताइस कि कृषक जीवन ज्योति योजना बर नवा वित्तीय बरस म राज्य सरकार 2975 करोड़ रूपिया खऱच करही। योजना म अब तक बिजली के कनेक्शन प्राप्त कर चुके चार लाख 52 हजार किसान मन म अनुसूचित जाति अउ जनजाति वरग एक लाख 19 हजार किसान मन सिंचाई बर बिजली मुफ्त दे जात हे। एखर बर 631 करोड़ रूपिया के अनुदान राज्य सरकार विद्युत कम्पनी ल देवत हे। योजना म अन्य वरग के किसान मन ल तीन हार्स पावर तक के सिंचाई पम्प बर छह हजार यूनिट अउ तीन हार्स पावर ले पांच हार्स पावर तक पम्प बर सात हजार 500 यूनिट बिजली मुफ्त देए के प्रावधान ये योजना म करे जाही। उंमन ह ये घलो बताइस हे कि राज्य सरकार के चार विशेष प्राधिकरण -सरगुजा, उत्तर क्षेत्र बस्तर अउ दक्षिण क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण, अनुसूचित जाति विकास प्राधिकरण अउ ग्रामीण एवं अन्य पिछड़ा वर्ग क्षेत्र विकास प्राधिकरण के डहर ले किसान मन ल असाध्य सिंचाई पम्प के विद्युतीकरण बर अतिरिक्त अनुदान के व्यवस्था करे गेहे। ये प्राधिकरण मन के कार्य क्षेत्र म जिला मन के 14 हजार 907 किसान मन के असाध्य पम्प ल बिजली देए बर 87 करोड़ रूपिया के अनुदान दे गेहे।
मुख्यमंत्री ह बताइस कि राज्य सरकार ह ज्यादा ले ज्यादा किसान मन ल सिंचाई सुविधा बर सौर ऊर्जा के इस्तेमाल शुरू करे बर जोर देवत हे। एखर म किसान मन ल बिजली फोकट मिलथे। एखर बर बरस 2016 ले सौर सुजला योजना संचालित करे जाथ हे। ये योजना के तहत किसान मन ले नाम मात्र के अंशदान लेके उंखर खेत मन म सोलर सिंचाई पम्प स्थापित करे जात हे। मुख्यमंत्री के कहिन कि सौर सुजला योजना के तीन वित्तीय बरस यानि 31 मार्च 2019 तक 51 हजार किसान मन ल सोलर सिंचाई पम्प दिलाए के लक्ष्य हवय । अब तक 25 हजार किसान मन ह ये योजना के लाभ लेके अपन खेत म सोलर पम्प लगवा लिए हे। जेमा अनुसूचित जाति अउ जनजाति वरग के 15 हजार किसान मन घलो शामिल हवय। डॉ. सिंह ह बताइस कि योजना के तहत तीन लाख 50 हजार रूपिया दाम के तीन हार्सपावर के सिंचाई पम्प अनुसूचित जाति अउ जनजाति वरग के किसान मन ल केवल 7 हजार रूपए म, अन्य पिछड़ा वरग के किसान मन ल 12 हजार रूपिया अउ सामान्य वरग बर किसान मन ल 18 हजार रूपिया म दिए जाही।
डॉ. सिंह ने बताइस कि सौर सुजला योजना म पांच हार्स पावर के सौर ऊर्जा सिंचाई पम्प, जेखर बाजार म दाम चार लाख 50 हजार रूपए हवय, राज्य शासन ह अनुसूचित जाति अउ जनजाति वरग बर किसान मन ल 10 हजार रूपिया म, अन्य पिछड़े वरग के किसान मन ल 15 हजार रूपिया म अउ सामान्य वरग के किसान मन ल 20 हजार रूपिया म दिए जाथे हे। सौर सुजला योजना के संचालन ऊर्जा विभाग के सार्वजनिक उपक्रम छत्तीसगढ़ राज्य अक्षय ऊर्जा विकास अभिकरण (क्रेडा) ह कृषि विभाग के सहयोग ले करत हवय।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close